Best 25+ Ambedkar Jayanti Slogans SMS Status Quotes in Hindi - Happy New Year 2021 .in

We Share New Status Shayri or Event Message

2021/04/07

Best 25+ Ambedkar Jayanti Slogans SMS Status Quotes in Hindi

डॉ भीमराव अम्बेडकर (Dr.B R Ambedkar) जयंती 14 अप्रैल यानी आज देशभर में मनाई जाती है. भीमराव अम्बेडकर को बाबा अम्बेडकर के नाम से भी जाना जाता है. इस बार 14 अप्रैल को उनकी 130 वीं जयंती मनाई जा रही है. भीमराव अम्बेडकर का जन्म 14 अप्रैल 1891 को मध्यप्रदेश के गांव महू में महार जाति में हुआ था. जिसे लोग अछूत और बेहद निचला वर्ग मानते थे. बचपन में भीमराव अंबेडकर के परिवार के साथ सामाजिक और आर्थिक रूप से गहरा भेदभाव किया जाता था.भीमराव अम्बेडकर की कई बातों का समाज पर बहुत असर पड़ा.

आज में आपके लिए कुछ Slogans Quotes SMS Status  Ambedkar jayanti,Ambedkar Jayanti Messages,Ambedkar Jayanti Quotes,ambedkar Jayanti Slogans,Ambedkar Jayanti SMS,Ambedkar jayanti status,Ambedkar Jayanti SMS Quotes,Ambedkar jayanti shayari, लेकर आया हु 

आज का दिन समानता दिवस और ज्ञान दिवस के रूप में भी मनाया जाता है. डॉ. भीमराव अम्बेडकर की जयंती पर कुछ स्लोगन्स लिखे है आपके लिए तो  जरूर पढ़े और शेयर करे 




Ambedkar Jayanti Slogans

 

Babasaheb Ambedkar Jayanti Wishes in Hindi

कुरान कहता है मुसलमान बनो,
बाइबल कहता है ईसाई बनो,
भगवत गीता कहती है हिन्दू बनो,
लेकिन मेरे बाबासाहेब का,
संविधान कहता है मनुष्य बनो,
अम्बेडकर जयंती की हार्दिक शुभकामनाएं..





नींद अपनी खोकर जगाया हमको,
आँसू अपने गिराकर हँसाया हमको,
कभी मत भूलना उस महान इंसान को,
जमाना कहता हैं “बाबासाहेब आंबेडकर” जिनको,
अम्बेडकर जयंती की हार्दिक शुभकामनाएं..






यदि हम एक संयुक्त एकीकृत आधुनिक भारत चाहते हैं तो
सभी धर्मों के शास्त्रों की संप्रभुता का अंत होना चाहिए”
– डॉ॰ भीमराव अम्बेडकर





वो समाज भी अपनी है, जो खुले गगन को सहती है
उनमें भी इज़्ज़त होती, उनमें भी गैरत रहती है
एक अकेले भीमराव, दलितों के हक में लड़ते थे
इसीलिये तो उनको दुनिया, साहेब साहेब कहती है।






हमारे हौसलों को ताज़गी, थोड़ी हवा देना
जिएं हम सरज़मीं के वास्ते, इतनी वफ़ा देना
ऐ मेरे भीम तुम हम पर, महज़ इतनी कृपा करना
मरें हम देश की ख़ातिर, हमें इतनी दुआ देना।







Jay Bhim Status For WhatsApp In Hindi



खाली नाम के यहा पर कितने भगवान हो गये……….
लेकीन एकही भीम के करम से आज हम इन्सान बन गये……….
जिन्हे चलना, संभलना याद न था….
आज धूल से उठकर आसमान बन गये …….
ये मेरे भीम बाबा हमको है बचाया तुमने…..
अरे ठुकराया था उस दुनिया ने…..
तो पहले गले से लगाया तुमने.





नजारों मे नजारा देखा एसा नजारा नही देखा,
आसमान मे जब भी देखा
मेरे भीम जैसा सितारा नही देखा।





देश प्रेम में जिसने आराम को ठुकराया था
गिरे हुए इंसान को स्वाभिमान सिखाया था
जिसने हमको मुश्किलों से लड़ना सिखाया था
इस आसमां पर ऐसा इक दीपक बाबा साहेब कहलाया था





नज़र उठाओ आँखें खोलो, जाकर के इतिहास पढो
लड़ो नहीं यूँ आरक्षण पर, काबिल बन इतिहास गढ़ो
बाबा साहेब काबिल बनकर, संविधान गढ़ आये थे
बनो बनाओ बाबा साहेब, फिर दुनिया पर राज करो।



Ambedkar Jayanti Quotes in Hindi


Dr.B.R. Ambedkar Jayanti Slogans



सबके हक में सब होता पर, अपने हक में क्या होता
सबके हक में रब होता पर, अपने हक में क्या होता
सोच सोच कर दिल घबराये, दशा दिशा कैसी होती
होते ना बाबा साहेब तो, अपने हक में क्या होता।




पैदा ना होता वो मसीहा तो खुशियों का सिलसिला नहीं होता
बे रंग रहती ये ज़मी और आसमान का रंग नीला नहीं होता
भारत तो कब का कंगाल हो जाता यारो
अगर भीम राव आंबेडकर जैसे हीरा मिला नहीं होता




कुरान कहता है मुसलमान बनो
बाइबल कहता है ईसाई बनो
भगवत गीता कहती है हिन्दू बनो
लेकिन मेरे बाबासाहेब का
संविधान कहता है मनुष्य बनो



ना छुरी रखता हुंना पिस्तौल रखता हुं
“जय भिम” का बेटा हुंदिल में जिगर रखता हुं.!
इरादों मे तेज़ धार रखता हुंइस लिए हमेशाअकेला ही निकलता हु.!!
ये आवाज नही शेर कि दहाड़ है…..
हम खडे हो जाये तो पहाड़ है।जय भिम


Ambedkar Jayanti Slogans In Hindi


Ambedkar Jayanti SLogans Quotes in Hindi



भीम जैसा सूरज अगर निकला ना होता,
हम दलितों के जिवन मे ये उजाला ना होता,
मर गये होते युही जुल्म सहकर
अगर हमे भीम जैसा रखवाला मिला ना होता।





देश में क्रांति ऐसी हो :-
जब पैदा हो बच्चे तो, धरातल भीम का हो !
जब आँख बंद हो तो, सहारा भीम का हो !
एक पीढ़ी मिट जाये तो, कोई गम नहीं,
लेकिन मरते वक्त भी हर जुबॉ पर, नारा भीम का हो |





सच्चाई को कभी यारों छोडना नहीं
अपने वादो से मुख कभी मोडना नहीं
जो भूल गये भिम के एहसान को हमेशा
ऐसे मक्कारो से रिशता भुलकर भी जोडना नहीं।




नीले अर्श पर नीली घटा छायी है ….
तेरे करम से बुद्ध की दौलत पायी है….
कोई नही पराया सारे भाई भाई है…
मिल जुलकर रहने मै सबकी भलाई है…
छोड्दो अपना पराया ए जय भिमवालो…
दिल से दिल मिलाने ये भिम जयंती आयी है…



सुनकर जमाने की बाते हम अपने”
आपको” नही बदलते.
भरोसा रखते है हम खुदसे
भी ज्यादा अपने “बाप” के विचारो पर,
इसलिए हम जय भिम वाले
कभी अपने “बाप” को नही बदलते.
जय भीम





ममता,करणा और समता जिसका है आधार
हमारी उजाड़ी जिन्दगी में ला दी बाबा साहेब ने बहार
हमारी आजादी की कहानी लिखी हमारे भीम ने
खुशियों भरा सजाया हमारा संसार भीम ने





रुतबा मेरे सर को तेरे संविधान से मिला है
ये सम्मान भी मुझे तेरे संविधान से मिला है
औरो को जो मिला है वो मुकदर से मिला है
हमें तो मुकदर भी तेरे संविधान से मिला है
*ना ‘जिंदगी’ की खुशी* ना ‘मौत’ का गम*
*जब तक है..दम..*”जय भीम” कहेंगे हम….!!!*

No comments:

Post a Comment